Thursday, March 30, 2017

मेरा पहला सेलिब्रिटी इंटरव्यू :)

संचारी ने सबसे पहले ये सेलिब्रिटी इंटरव्यू वाला सिस्टम शुरू किया था। देख देख के मेरा भी बड़ा मन किया कि मैं भी एक सेलिब्रिटी इंटरव्यू करूं।
संचारी अब तक टी.वी या परदे के पीछे टाइप के कलाकारों का इंटरव्यू ले रही थी। पर मैंने डायरेक्ट सहवाग पर आकर ऊँगली रखी।
कॉमेडी नाइट्स विथ कपिल पर उनके सहवाग इंटरनेशनल स्कूल खोलने के पीछे की दुःख प्रेरणादायक कहानी सुनी तो लगा ये हमारे 'द बेटर इंडिया - खबरे जो आपको प्रेरणा दे' के लिए बिलकुल फिट है।
सहवाग के ट्विटर अकाउंट पर उनके असिस्टेंट का फ़ोन नंबर भी मिल गया।
बस फिर क्या था बिना एडिटर को पूछे ही मार दिया दांव। दान लगा भी...पर सही निशाने पर नहीं :(
सहवाग से बात तो नहीं हो पायी पर क्योंकि स्कूल की पब्लिसिटी हो जाती इसलिए शायद उनके असिस्टेंट ने सारे सवालो के जवाब मेल पर ही भेज दिए।
बहुत एक्ससिटेड होकर मैंने आर्टिकल तैयार किया जो बारा के भाव में झट से रिजेक्ट हो गया।
पर मेरा संकल्प अडिग था। साथ ही संचारी कोई भी नया सेलिब्रिटी इंटरव्यू करती तो ये संकल्प और पक्का हो जाता।
एक दिन लेटे लेटे याद आया कि मेरी फ्रेंड स्वाति ने कहा था कि उसके जीजाजी पियूष मिश्रा के दोस्त है।
बस आ गया आईडिया....
पर पियूष मिश्रा....और द बेटर इंडिया????
खैर देखि जायेगी...ये सोचकर मैंने फटाक से स्वाति को दोस्ती की गुहार लगाते हुए व्हाट्सअप किया..." यार पियूष मिश्रा का इंटरव्यू दिला दे"
पर इस बार एडिटर से पूछ लिया था कसम से।
स्वाति ने अपने जीजाजी से गुहार लगायी और मुझसे कहा कि उनसे बात कर लूँ।
जीजाजी से भी बात हो गयी...उन्होंने पियूष जी के असिस्टेंट राहुल गांधी से बात करने को कहा।
राहुल जी से भी बात हो गयी। उन्होंने मेल करने को कहा।
मेल भी कर दिया...और कई दिनों तक कोई जवाब नहीं आया। मैं रोज़ एक बार राहुल जी को व्हाट्सअप पर उनकी खैर खबर ज़रूर पूछती। पर उनका कोई जवाब नहीं आता। राहुल जी ने ब्लू टिक भी ऑफ कर रखा था तो ये भी समझ नहीं आता कि वो मेरा दुआ सलाम पढ़ भी रहे है या नहीं।
और फिर आखिर तीस मार्च 2017 को दोपहर 3 बजे फ्रस्टिया के मैंने राहुल जी को व्हाट्सअप किया कि सर अगर टेलीफोनिक इंटरव्यू नहीं देना चाहते तो क्या मैं आपको सवाल मेल कर दूँ?
बस तुरंत जवाब आया... मॉफ करियेगा डिले हो गया। मैं बात करता हूँ।
और फिर थोड़ी देर में व्हाट्सअप फिर बजा...इस बार राहुल जी ने कहा कि 4:30 बजे बात कर लीजियेगा। पियूष जी का फ़ोन नंबर है। मैंने कहा 'नहीं'.
और बड़ा मज़ा आया कि पियूष मिश्रा...माने पियूष मिश्रा का फ़ोन नंबर मिल जायेगा...डायरेक्ट बात करने के लिए????
4:30 बजे फ़ोन लगाया...हुस्ना वाली वही आवाज़!!! 2 मिनट के लिए सर सकपकाया।
पहला सवाल पूछा कि सर अपने बचपन की कोई याद शेयर करे...जिसके जवाब में जो मिला उसके बाद अपने आपको ये सवाल करने के लिए 1.5 मिनट बहुत कोसा।
फ़टाफ़ट दूसरे सवाल पर आ गयी। अभी दूसरे सवाल में वार्म अप हो ही रहे थे पियूष सर कि फ़ोन में से आवाज़ आने लगी...टूँ टूँ टूँ.... मैंने कहा "हेल्लो"...उन्हीने कहा "हेल्लो"...ओह्ह शिट ये तो बैलेंस ख़त्म हो गया....अरे पर्स ही तो 90 रूपये दिखे थे। सोचा था महीना चल जायेगा....और ये फोन कट!!!!
फ़टाफ़ट paytm किया....भला हो मोदी जी का जो नोटबंदी करा दी वर्ना paytm में कार्ड सेव करके कौन रखता है।
फिर कॉल लगाया...2 सवाल और पूछे ही थे कि पियूष जी गायब..." हेल्लो...हेल्लो"....और ये फ़ोन कट।
दुबारा किया तो..."तुम्ही ज्या नंबर वर फ़ोन करत आहात तो आता कवरेज क्षेत्राचा बाहेर आहे।"
दुबारा नंबर लगाया...इस बार बीजी बताने लगा। usually ऐसा होने पे मैं वेट करती हूँ कि अच्छा है अगला ही फ़ोन लगाए ;)
पर पियूष जी मुझे फ़ोन करेंगे....नहीं नहीं...
सोच ही रही थी कि फ़ोन बजा...पियूष मिश्रा कालिंग
कॉल उठाया और कहा..." सर मैं दुबारा लगाऊं आपको"?
"नहीं....बात करो"
और इस तरह..पियूष जी से कॉल करवा कर मैंने अपनी ज़िन्दगी का पहला सेलेब्रिटी इंटरव्यू लिया :)

Monday, March 27, 2017

The last paragraph!

I keep concentrating hard on how to write the concluding paragraph of my article and ta...daaaa... Here comes my princess back from the park. As a huge fan of Nobita, she believes in announcing the big arrival with.. "Mamma I came back..."
Thankfully she is 6 now and can pee, poo and wash herself alone. So she does all of that and orders me for a glass of water...then a banana...and then anything and everything I will be dead tired of searching..like one of her stereoscope from the doctor set which might be lying just behind the cupboard or a long lost book which she might have not touched in the past 6 years 😭
After finishing all this I would return to what I say, 'concentrate on my work'.... And here you go she will give me a guilt drive by saying that age old cleashayed line woman use all the time... "Mamma you don't listen to me...or you don't have time for me"...
Buaahhhh... I leave the last para again and listen to all the chitter chatter for say 5 minutes...and that's it.. my mommy guilt is over...time for some employee guilt.
I ask her to keep quite for another 10 minutes and get back to what I say 'concentrate on my work'!
The last para id about to strike the cord of my last nerve of the brain when she starts her questions on anything she is doing... If it is a mobile game...then how to download the new version. If it is tv then what is or why is the character doibg or saying...etc etc etc...
My deadline is just a few minutes away and I continue answering my daughter while finishing the last para!!!😢😢😢

Thursday, March 23, 2017

Main apni baat kahu to kya doge?

Main apni baat kahu to kya doge?

Bejhijhak bebak banu to kya doge?

Tum mujhse mere hone ka

Main janti hun hakk cheen loge!

Main tumse apni baat kahu to kya doge?

Main rafta rafta jeene ka ... Gur seekh rahi hun ...mat toko

Main chup rahkar sab sahne ka ...gur seekh rahi hu...mat roko

Tum kahte ho bebaak raho

Jo dil me aaye wo kaho..

Main dil ki baaton ko dafn karne ka gur seekh rahi hu...mat toko

Main tumse sab kuch kah bhi du

Main zinda hun ye saabit kar bhi du

Tum mere zinda hone se kya ghanta mujhse ittefaq karo

Tum mere sach kah dene se kyu ganga me ja doob maro

Sach ye ki tum jhoothe ho..

Sach ye hai ki tum nange ho

Sach ye hai ki tumse mera mazhab na bardaasht hua na hoga kabhi

Sach ye hai main gar sach kah du... Tum sharm ka chaadar de doge

Sach ye hai us chaadar ki aad me tum meri achchi tarah le loge...

Sach ye ki main sach kah du to tum sab hoth see loge

Fir tum hi kaho...main apni baat kahu ...to tum sab mujhko kya doge?

Tum doge ik bhookha bachpan, tum doge ik nanga yauvan, tum doge galiyan do chaar aur tum doge bhar bhar bhrashtachar, tum doge naari ka darpan, tum doge ammaran anshan, tum doge wahi galgal sarkaar, tum doge wahi deh vyapar, tum doge rashan ki line, tum doge signal par fine, tum doge mahangayi ka khel, tum doge do partiyon ka mel, tum doge twitter ki war , tum doge facebook ka sansaar.

Jab wahi doge jo dete aaye ho to main kya naya kahu....aur tum kya naya laye ho...

Chalo fir bhi....Main apni baat kah bhi du to kya doge?